अमेरिका ही दूसरे देशों पर आर्थिक प्रतिबंध क्यों लगाता हैं – American Sanctions

अमेरिका ही दूसरे देशों पर आर्थिक प्रतिबंध (Sanctions ) क्यों लगाता हैं – American Sanctions

दोस्तों आपने अमेरिकी आर्थिक प्रतिबंधों के बारे में जरूर सुना होगा | आपने अक्सर सुना होगा कि अमेरिका ने किसी देश पर आर्थिक प्रतिबंध लगा दिया | अब आपके मन में ये सवाल जरूर आता होगा कि अमेरिका ही दूसरे देशों पर आर्थिक प्रतिबंध (Sanctions ) क्यों लगाता हैं –  तो आइए जानते है इसकी वजह |

%25E0%25A4%2585%25E0%25A4%25AE%25E0%25A5%2587%25E0%25A4%25B0%25E0%25A4%25BF%25E0%25A4%2595%25E0%25A4%25BE%2B%25E0%25A4%25B9%25E0%25A5%2580%2B%25E0%25A4%25A6%25E0%25A5%2582%25E0%25A4%25B8%25E0%25A4%25B0%25E0%25A5%2587%2B%25E0%25A4%25A6%25E0%25A5%2587%25E0%25A4%25B6%25E0%25A5%258B%25E0%25A4%2582%2B%25E0%25A4%25AA%25E0%25A4%25B0%2B%25E0%25A4%2586%25E0%25A4%25B0%25E0%25A5%258D%25E0%25A4%25A5%25E0%25A4%25BF%25E0%25A4%2595%2B%25E0%25A4%25AA%25E0%25A5%258D%25E0%25A4%25B0%25E0%25A4%25A4%25E0%25A4%25BF%25E0%25A4%25AC%25E0%25A4%2582%25E0%25A4%25A7%2B%25E0%25A4%2595%25E0%25A5%258D%25E0%25A4%25AF%25E0%25A5%258B%25E0%25A4%2582%2B%25E0%25A4%25B2%25E0%25A4%2597%25E0%25A4%25BE%25E0%25A4%25A4%25E0%25A4%25BE%2B%25E0%25A4%25B9%25E0%25A5%2588%25E0%25A4%2582%2B %2BAmerican%2BSanctions%2B

अमेरिका ही दूसरे देशों पर आर्थिक प्रतिबंध (Sanctions ) क्यों लगाता हैं –  | असल में  देखा जाए तो न केवल America बल्कि दुनिया का हर देश दूसरे देश पर आर्थिक और व्यापारिक प्रतिबंध लगा सकता हैं | किन्तु America द्वारा लगाया गया प्रतिबंध इतना विशेष क्यों होता हैं? इसके बारे में जानते हैं –

America द्वारा लगाए Sanction इतने ज्यादा विशेष होने के कई कारण हैं | लेकिन इससे पहले ये समझना होगा कि अगर कोई देश किसी अन्य देश पर आर्थिक और व्यापारिक प्रतिबंध लगता है तो किस देश को ज्यादा नुकसान होगा? 

यदि कोई देश किसी अन्य देश पर आर्थिक या व्यापारिक प्रतिबंध लगाता है तो दोनों ही देशों को ( अर्थात आर्थिक प्रतिबंध लगाने वाला देश और जिस देश पर आर्थिक प्रतिबंध लगाया गया है ) समान रूप से नुकसान उठाना पड़ता हैं |

इसका अर्थ यह कि आर्थिक प्रतिबंध लगाने वाले देश को भी उतना ही प्रभाव और नुकसान होता है जितना प्रतिबंध झेलने वाले देश को होता है | इसलिए किसी देश पर आर्थिक और व्यापारिक प्रतिबंध लगाने के लिए उस देश की खुद की Economy (अर्थव्यवस्था ) इतनी मजबूत और बड़ी होनी चाहिए कि वह देश उस प्रतिबंध के कारण होने वाले नुकसान को झेल सके |

अब आप ये तो समझ ही गए होंगे अगर कोई देश किसी अन्य देश पर आर्थिक प्रतिबंध लगाया चाहे तो उसकी खुद की अर्थव्यवस्था ( Economy ) इतनी मजबूत होनी चाहिए कि उस देश पर कोई खास प्रभाव न पड़े और यदि कोई प्रभाव पड़े भी तो झेलने की क्षमता हो |

अब अगर America की बात की जाए तो America दुनिया की सबसे बड़ी Military Power होने के साथ साथ दुनिए की सबसे बड़ी Economy भी है | इस कारण America यदि किसी देश पर प्रतिबंध लगाता है तो प्रतिबंध झेलने वाले देश पर तो गहरा प्रभाव पड़ता है लेकिन America पर इतना प्रभाव नहीं पड़ता |

इस कारण से America द्वारा लगाए गए प्रतिबंध को काफी विशेष महत्व दिया जाता है | अब देखते हैं कि America द्वारा लगाए गए प्रतिबंधों ( Sanctions ) को इतना प्रभावशाली बनाने वाले कुछ प्रमुख कारणों को |

American Sanctions को इतना विशेष और प्रभावशाली होने का एक बड़ा कारण ये है कि जब America किस देश पर Sanctions लगता हैं तो दुनिया के ज़्यादातर देश American sanction को Follow करते हैं |

इसके कुछ प्रमुख कारण इस प्रकार हैं –

क्योंकि अमेरिका दुनिया की सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था है इसलिए कोई भी देश America से अपने रिश्ते खराब नहीं करना चाहता | इसलिए ज़्यादातर देश उसके साथ खड़े होते नज़र आते हैं |

America दुनिया के लगभग सभी देशों से व्यापार (Trade) करता हैं | America ज़्यादातर देशों से कई प्रकार के सामान Import करता हैं | इसलिए America के पास एक बड़ा Plus Point है कि वह उन देशों पर प्रतिबंध लगा सकता हैं |

NATO यानि North Atlantic Treaty Organization जिसमें कि 29 देश शामिल हैं | America NATO का एक प्रमुख देश हैं | America यदि किसी देश पर प्रतिबंध लगता है तो ये सभी देश मिलकर उसको Follow करते हैं |

SWIFT System और Dollar. दुनिया कुछ देशों के छोडकर लगभग 90 से 95 फीसदी देश International Trade Dollar ( $ ) में ही करते हैं | जिसका पूरा System अमेरिका ही कंट्रोल करता है | दुनिया भर में 95% Foreign Transaction $  ( Dollar )में ही होते हैं |

ऊपरोक्त सभी कारणों के कारण America द्वारा लगाए गए Sanctions इतने कारगर और प्रभावशाली होते है |

America के अलावा UNSC ( United Nation Security Council ) और यूरोपीय यूनियन भी प्रतिबंध लगाती हैं |

इन्हें भी पढ़ें :

Kitne deshon ke paas parmanu bam hai – Nuclear Bomb Countries 

Leave a Reply

Your email address will not be published.