bharat ki sabse badi nadi kaun si hai – पूरी जानकारी | 2022

प्राचीन काल से भारत में नदियों के माध्यम से सिंचाई हो रही है। नदियों से, कई लोगो की आवश्यकताओं की पूर्ति होती है | भारत में नदियों को माताओं के रूप मानते है तथा उनकी पूजा करते है। आज के इस आर्टिकल हम आपको bharat ki sabse badi nadi kaun si hai, तथा इससे संबन्धित जानकारी देने वाले है |

इस आर्टिकल के जरिये हम आपको bharat ki sabse badi nadi ka naam तथा इस नदी में चल रही कुछ महत्वपूर्ण परियोजनाओं के बारे में भी जानकारी देंगे | तो आइये जानते है bharat ki sabse badi nadi तथा Bharat ki sabse lambi nadi के बारे में |

Read Also

बेतवा नदी, क्षिप्रा नदी, भागीरथी नदी | Betwa, Bhagirathi. Kshipra River

bharat ki sabse badi nadi ka naam

bharat ki sabse badi nadi ka naam गंगा नदी है | Ganga Nadi bharat ki sabse badi nadi और bharat ki sabse lambi nadi hai | भारत में गंगा नदी प्राचीन काल से ही पवित्र नदी है । गंगा नदी को भागीरथी नदी के नाम से भी जाना जाता है।

गंगा नदी भारत की सबसे बड़ी नदी है जिसकी लंबाई लगभग 2525 km है । गंगा नदी भारत के कई राज्यों से होकर गुजरती है। गंगा नदी उत्तराखण्ड से निकलती है तथा बंगाल की खाड़ी में मिलती है | जहां गंगा नदी, ब्रह्मपुत्र नदी के साथ मिलकर सुंदरवन डेल्टा बनाती है | सुंदर वन डेल्टा विश्व का सबसे बड़ा डेल्टा है।

गंगा नदी में विभिन्न प्रकार की प्रजातियां तथा वनस्पतियां पाई जाती है, जिसमे से डॉल्फिन ही एक ऐसा जीव है को गंगा नदी में ही पाया जाता है। गंगा नदी में मछलियों की 140 प्रकार की प्रजातीय तथा तट पर 42 स्तनधारी प्रजातियां पाई जाती है ।

तटीय क्षेत्रों पर भी विभिन्न प्रकार के जीव जंतु जैसे – लंगूर , लाल बंदर , भालू , हिरण इत्यादि पाए जाते है | गंगा नदी का जल कभी खराब नही होता क्योंकि इसमें ऐसा बैक्टीरिया पाया जाता है को जल को हमेशा शुद्ध रखता है।

Ganga Nadi ki sahayak nadiyan – गंगा नदी की सहायक नदियाँ

गंगा नदी में उत्तरी पठार से आकर मिलने वाली नदिया –

यमुना , रामगंगा , सरयू , तपती , गंडक , कोसी और काशी । यमुना नदी गंगा नदी की सबसे बड़ी सहायक नदी है |


गंगा नदी में दक्षिण के पठार से आकर मिलने वाली नदिया –

चंबल , सोन , बेतवा , फेन , दक्षिणी टोस । ये 12 नदिया गंगा नदी की सहायक नदियाँ है ।

गंगा नदी का महत्व – Importance of Ganga River In Hindi

गंगा नदी हमारे देश की सबसे पवित्र और विशाल नदी है | भारत में गंगा नदी का विशेष महत्व है | गंगा नदी का न केवल धार्मिक दृष्टि से महत्व है बल्कि आर्थिक रूप से भी गंगा नदी हमारे लिए काफी महत्वपूर्ण है |

bharat ki sabse badi nadi kaun si hai - पूरी जानकारी | 2022

धार्मिक दृष्टि से महत्व –

  • हिंदू परंपराओं के अनुसार आज भी लोग मनुष्य के देह संस्कार के पश्चात उनकी अस्थियों को गंगा नदी में प्रवाहित करते है।
  • गंगा नदी के किनारे तीन बड़े शहर हरिद्वार , प्रयागराज तथा वाराणसी है जहा भारी संख्या में लोग श्रद्धा भाव से जाते है ये श्रद्धालु अपने पापों का प्रायश्चित के लिए यहां आते है। गंगा नदी के तट पर कई पर्यटन स्थल भी है |
  • लोग बड़ी संख्या में इन पर्यटन स्थलों पर घूमने तथा अपनी मनोकामना की पूर्ति के लिए आते है तथा पूजा आरती के लिए आते है गंगा के जल को लोग अत्यंत पवित्र मानते है तथा जल को बोतलों में भरकर घर ले जाते है। गंगा के जल में स्नान करना लोग पवित्र मानते है । आई। तीर्थ स्थलों में मेला महोत्सव भी मनाए जाते है।

आर्थिक दृष्टि से महत्व –

गंगा नदी किन किन राज्यों में बहती है –


गंगा नदी निम्न राज्यों से होकर गुजरती है –उत्तराखण्ड , उत्तरप्रदेश , बिहार , झारखंड , पश्चिम बंगाल | ये सभी राज्य गंगा नदी के पानी से अपनी विभिन्न आवश्यकताओं की पूर्ति करते है।

गंगा नदी के किनारे कई वर्षो से लोग कृषि कर रहे है | ज़्यादातर लोग मुख्यत: , आलू , गेंहू तथा गन्ने की खेती करते है। ये लोग कृषि के माध्यम से ही अपना तथा अपने परिवार का पालन – पोषण करते हैं।

गंगा नदी की नदी घाटी परियोजनाए


गंगा नदी के बाढ़ के पानी को नियंत्रित करने तथा पानी के आवश्यकतानुसार उपयोग हेतु कई परियोजनाएं चलाई गई | आइये जानते है गंगा नदी की नदी घाटी परियोजनाए | इन परियोजनाओं में कुछ मुख्य परियोजनाएँ जो निम्न है – रिहद परियोजना , चंबल परियोजना , कोसी परियोजना , टिहरी परियोजना , गंडक परियोजना , बाणसागर , टकनपुर परियोजना इत्यादि।

रिहद परियोजना –

भारत के उत्तरप्रदेश और मध्यप्रदेश के राज्यों की सीमा पर यह बांध। बनाया गया है। यह। बांध सोनभद्र जिले में स्थित है।

चंबल परियोजना –

यह बांध चंबल नदी पर बनाया गया है। जल विद्युत 386 मेगावाट है |

कोसी परियोजना –

यह बांध कोसी नदी पर 1958 तथा 1962 के मध्य बनाया गया है।

टिहरी परियोजना –

यह बांध उत्तरप्रदेश प्रांत के टिहरी जिले में स्थित है यह बांध गंगा नदी की सहयोगी नदी भागीरथी नदी पर बनाया गया है। यह विश्व का पांचवां सबसे ऊंचा बांध है जिसकी ऊंचाई लगभग 261 मीटर है।


इन परियोजनाओं के माध्यम से किसानों को कृषि करने था अन्य कार्य करने में सहायता मिली हैं ।

Conclusion –

प्राचीन काल से भारत में नदियों के माध्यम से सिंचाई हो रही है। नदियों से। कई लोगो की आवश्यकताओं की पूर्ति होती है भारत में नदियों को माताओं के रूप मनते है तथा उनकी पूजा करते है। गंगा नदी प्राचीन काल से भारत की पवित्र नदी है । गंगा नदी को भागीरथी नदी के नाम से भी जाना जाता है।

अगर आपको ये पोस्ट bharat ki sabse badi nadi kaun si hai पसंद आया हो तो इसे Share जरूर करे | अगर आपका कोई सवाल या सुझाव हो तो नीचे comment जरूर करे |

FAQ – Frequently Ask Questions

भारत की सबसे लंबी नदी कौन सी है

गंगा नदी भारत की सबसे बड़ी नदी है जिसकी लंबाई लगभग 2525 km है । गंगा नदी भारत के कई राज्यों से होकर गुजरती है।

गंगा नदी का उद्गम स्थल है

गंगा नदी उत्तराखण्ड से निकलती है तथा बंगाल की खाड़ी में मिलती है | जहां गंगा नदी, ब्रह्मपुत्र नदी के साथ मिलकर सुंदरवन डेल्टा बनाती है |

गंगा नदी किन किन राज्यों में बहती है

गंगा नदी इन राज्यों से होकर गुजरती है –उत्तराखण्ड , उत्तरप्रदेश , बिहार , झारखंड , पश्चिम बंगाल |

गंगा नदी कितनी लंबी है

गंगा नदी की लंबाई लगभग 2525 km है |

Leave a Reply

Your email address will not be published.