Plugins kya hote hain 2023 WordPress Plugin Photoshop Plugin

दोस्तों आपने कभी न कभी Plugins का नाम तो जरूर सुना होगा | अगर आप Photoshop या कोई Video Editing Software आदि अपने Computer Use करते होंगे तो आपने इसके बारें में जरूर सुना होगा | आज के इस पोस्ट में हम आपको Plugins kya hote hai , इसकें बारें में विस्तार से जानकारी देंगे |

Plugins kya hota hai ? Plugins कितने प्रकार के होते हैं ? इस सभी विषयों पर आज हम आपको जानकारी देने का प्रयास करेंगे | तो आइये जानते है कि Plugins kya hote hain ?

Read Also

feedback kya hota hai 2023 | फीडबैक अर्थ,फायदा,उदाहरण,प्रकार

Flipkart Health Plus Kya Hai In Hindi. Online medicine Kaise order kare

Plugins kya hote hain –

Table of Contents

“प्लगइन” एक प्रकार के सॉफ़्टवेयर के घटक या अंश होते हैं जो एक मुख्य सॉफ़्टवेयर के साथ एकीकृत (Integrated) होते हैं और उसके किसी विशेष कार्य को सुधारने, बढ़ाने या नए सुविधाओं को जोड़ने में मदद करते हैं। प्लगइन का उपयोग विभिन्न प्रकार के सॉफ़्टवेयर और एप्लिकेशन में किया जाता है, जैसे वेब ब्राउज़र, Video Editing Software, फोटो एडिटिंग Software, ऑडियो / वीडियो प्लेयर, 3D Animation Software आदि।

Plugins का उपयोग न केवल उपरोक्त Software में होता है बल्कि WordPress में भी होता है | WordPress के लिए तो हजारों Plugins आते है | और निरंतर समय समय में आते रहते है | इन Plugins का उपयोग विभिन्न प्रकार के कार्यों को जल्दी और अच्छे से व आसानी से करने के लिए किया जाता है |

Plugins नाम से ही पता चलता है कि इसको Plug in किया जाता है किसी software के साथ इसलिए इसे Plugin कहाँ जाता है | Plugins को Extension भी कहा जाता है | जैसा कि आपने Chrome Extension , Opera Extension आदि के बारें में सुना होगा | यह भी एक प्राकार का plugin होता है | जो किसी विशेष कार्य को करने लिए होता है |

Plugins ke prakar – Plugins कितने प्रकार के होते हैं ?

प्लगइन्स कई प्रकार के होते हैं, जिनमें से कुछ Plugins ke prakar निम्नलिखित हैं:

वेब ब्राउज़र प्लगइन्स:

ये प्लगइन्स वेब ब्राउज़र्स में इंस्टॉल किए जा सकते हैं और आपको वेब सर्फिंग के दौरान विभिन्न सुविधाएं प्रदान कर सकते हैं, जैसे कि एड ब्लॉकर्स, पासवर्ड मैनेजर्स, वीडियो डाउनलोडर्स, विज्ञापन फ़िल्टर्स, और वेब पेज स्क्रीनशॉटर्स।

सामग्री प्रबंधन प्रणाली प्लगइन्स (CMS Plugins):

CMS प्लगइन्स वेबसाइट और ब्लॉग प्लेटफ़ॉर्मों में उपयोग होते हैं ताकि आप अपनी साइट को विभिन्न तरीकों से व्यक्तिगत कर सकें। ये प्लगइन्स सीएमएस की सुविधाओं को बढ़ावा देते हैं, जैसे कि सीएसईओ अनुकूलन, वेबसाइट की सुरक्षा, संपर्क फ़ॉर्म, सामान्य सवालों के संदर्भ फ़ॉर्म, और ई-कॉमर्स फ़ीचर्स।

ग्राफ़िक्स और डिज़ाइन सॉफ़्टवेयर प्लगइन्स:

Photo Editing और डिज़ाइन सॉफ़्टवेयरों में प्लगइन्स का उपयोग Special Effects, Filters, Text styles, तस्वीर संशोधन के साथ-साथ नए क्रिएटिव चीजों के लिए किया जा सकता है।

ऑडियो और वीडियो प्लेयर प्लगइन्स:

ये प्लगइन्स ऑडियो और वीडियो प्लेयर्स में Special Sound Effects, Equalizer, फ़िल्टर, और सुविधाएँ जोड़ सकते हैं जो मूल प्लेयर की फ़ंक्शनैलिटी को विस्तारित कर सकते हैं।

डेवलपमेंट और कोडिंग प्लगइन्स:

ईसमे प्लगइन्स का उपयोग कोडिंग और डेवलपमेंट की प्रोडक्टिविटी को बढ़ाने के लिए किया जाता है। ये प्लगइन्स syntax highlighting, debugging, and version control के लिए विभिन्न सुविधाएँ प्रदान कर सकते हैं।

गेमिंग प्लगइन्स:

गेमिंग सॉफ़्टवेयर में भी प्लगइन्स का उपयोग उपयोगकर्ताओं के लिए नए Features, Modes, गेम मॉडिफ़िकेशन्स, और गेमप्ले में सुधार करने के लिए किया जाता है।

ये कुछ उदाहरण हैं, लेकिन वास्तविकता में, प्लगइन्स के विभिन्न प्रकार, अनगिनत हो सकते हैं, जो विभिन्न सॉफ़्टवेयर और उपयोगकर्ताओं की आवश्यकताओं के अनुसार विकसित किए जाते हैं। ज़्यादातर Pluings थर्ड पार्टी developers द्वारा users की आवश्यकताओं को ध्यान में रखकर बनाए जाते है |

Read Also

जीबी व्हाट्सएप डाउनलोड कैसे करें | 5+ best तरीके 2023

Blur Photo ko clean kaise kare – Remini App in HINDI

Plugins के कुछ उदाहरण :

Photoshop Plugins के उदाहरण :

आइये अब हम आपको कुछ Plugins के उदाहरण देकर समझते है | आप सभी ने Adobe Phtoshop का नाम तो जरूर सुमा होगा |

Adobe Phtoshop एक प्रोफेशनल इमेज एडिटिंग सॉफ़्टवेयर है जिसका उपयोग फ़ोटो एडिटिंग, ग्राफ़िक्स डिज़ाइनिंग, और डिज़िटल आर्ट क्रिएशन के लिए किया जाता है। यह सॉफ़्टवेयर Graphics Designers, Photographers, Artists, और multimedia professionals के बीच में बहुत लोकप्रिय है।

फ़ोटोशॉप की मदद से आप विभिन्न तरीकों से फ़ोटो एडिट कर सकते हैं, जैसे कि Color correction, removal of speckles and blemishes, retouching photos, adding text and elements, creating graphics, and digital painting, आदि | इसके साथ ही, यह बहुत सारे फ़ाइल फ़ॉर्मेट्स का समर्थन करता है और ग्राफ़िक्स को प्रिंट और वेब पर प्रकाशित करने के लिए तैयार करने में मदद करता है।

एडोब फोटोशॉप का उपयोग ग्राफ़िक्स डिज़ाइनिंग, फ़ोटोग्राफी संशोधन, आर्ट क्रिएशन, वेब डिज़ाइन, वीडियो पोस्ट प्रोडक्शन आदि में किया जाता है। यह एक पूर्ण-समय की पेशेवर इमेज एडिटिंग सॉफ़्टवेयर होने के साथ-साथ एक High quality graphics और designs बनाने के लिए भी उपयोगी है।

इस software के लिए भी अलग अलग Plugins उपलब्ध है | जैसे कि

Powtoon6 : इसके जरिये आप अपने फ़ोटोशॉप डिज़ाइन को एनिमेटेड वीडियो सामग्री में रूपांतरित कर सकते हैं।

Ultimate Retouch Panel : इसके जरिये आप photo को retouch अर्थात स्किन texure , skin smoothing , lips colour आदि अनेक काम कर सकते है |

Optics : इसके जरिये आप अपने Photos को cinematic level के effect आदि डाल सकते है |

ये कुछ Photoshop Plugins के उदाहरण थे | इसके अलावा Photoshop के लिए सैकड़ों Plugins है और समय समय पर नए आते रहते है | इस सभी plugins को आप अपने Photoshop के साथ install करके इससे अपना काम आसान बना सकते है |

Chrome Browser plugins ( Extension ) के उदाहरण :

Chrome Browser एक वेब ब्राउज़िंग ऐप्लिकेशन है जो गूगल द्वारा विकसित किया गया है। यह एक वेब पेजों को देखने और इंटरनेट पर सर्च करने के लिए उपयोग होता है। क्रोम ब्राउज़र के जरिए आप विभिन्न वेबसाइटों पर सर्च कर सकते हैं, वीडियो देख सकते हैं, ईमेल चेक कर सकते हैं, ऑनलाइन खरीदारी कर सकते हैं, सोशल मीडिया पर अपडेट देख सकते हैं और बहुत कुछ कर सकते हैं।

क्रोम ब्राउज़र की एक मुख्य विशेषता यह है कि यह तेजी से वेब पेज लोड करने में मदद करता है और उपयोगकर्ताओं को एक आसान और विशेषित ब्राउज़िंग अनुभव प्रदान करता है। Chrome Browser विभिन्न प्लेटफ़ॉर्म्स पर उपलब्ध है, जैसे कि Windows, macOS, Android और iOS, जिससे आप अपने पसंदीदा डिवाइस पर इसका उपयोग कर सकते हैं।

इसके अलावा, क्रोम ब्राउज़र में विभिन्न एक्सटेंशन्स और ऐप्स उपलब्ध होते हैं जो आपको अपने ब्राउज़िंग अनुभव को और भी बेहतर बनाने में मदद कर सकते हैं।

chrome के लिए उपलब्ध कुछ Plugins या Extension –

Grammrly : यह एक काफी उपयोग Plugin है जो न केवल chrome बल्कि अन्य Browser के लिए भी उपलब्ध है | इसके paid version भी आता है और free version भी | अगर आप english में content , news या article लिखने का काम करते है तो यह आपके लिए काफी मददगार plugin है | यह आपके English grammer , spellings आदि को correct करता है और आपको महत्वपूर्ण suggesion भी देता है जिससे आप अच्छी english लिख सके |

OneTab : यह एक ऐसा chorme extension है जो आपके chrome में बहुत सारें opned tab को एक ही tab में डाल देता है | यह सारे tabs को list के रूप में दिखाता है | जिससे आपके computer की RAM कम use होगी |

Honey : यह extension भी आपके लिए काफी useful होगा | यदि आप onilne shoping करते रहते है तो आपके लिए यह काफी अच्छा plugin हो सकता है | जब आप किसी site पर जैसे amazon , flipkart , ajio, myntra, snapdeal आदि पर onilne shoping करते है तो आपको यह plugin कुछ discount code provide कराता है जिससे आपको discount मिल सके |

WordPress Plugins kya hote hain :

जिस तरह आपने उपर पढ़ा की किस तरह से Software में Plugins लगाने से क्या फायदे होते है | ठीक उसी तरह WordPress में भी Plugins install करके आप अपनी Website को सुंदर , आकर्षित , Secure और fast कर सकते है |

Plugins आपकी Website को रेलगुलर maintain करने के लिए भी आवश्यक होते है | plugins आपके ज़्यादातर कार्यों को काफी ज्यादा आसान बना देते है | अगर आपके पास personal blog website है जिसे आपने WordPress पर बनाया है, तो आपको न जाने कितनी सारी Settings और Customization करने पड़ते है |

ऐसे में भिन्न भिन्न प्रकार के Plugins आपकी website को Customize करने और maintain करने के लिए जरूरी होती है और ये plugins आपके काम को काफी आसान बना देते हैं |

WordPress Plugins के उदाहरण :

वर्डप्रेस (WordPress) प्लगइन्स वेबसाइट की विशेषताओं को बढ़ाने और विस्तारित करने के लिए उपयोग किए जाते हैं। ये कुछ प्रमुख WordPress प्लगइन्स के उदाहरण हैं:

Yoast SEO:

यह प्लगइन आपकी वेबसाइट को सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन (SEO) के लिए सहायक होता है। यह आपको पोस्ट और पेजों को आसानी से ऑप्टिमाइज करने के लिए मार्गदर्शन प्रदान करता है। इसके जरिये आप अच्छे से on page seo कर सकते है | यह आपको विभिन्न प्रकार से keword placement , keyword density , image alt text आदि कई प्रकार से on page seo करने के लिए सहायक होते है |

WooCommerce:

यह एक ई-कॉमर्स प्लगइन है जिसका उपयोग ऑनलाइन Store बनाने के लिए होता है। यह Users को उत्पादों को बेचने और खरीदने की सुविधा प्रदान करता है। यह plugin e commerce या online bussiness , product selling webisites के लिए काफी पसंदीदा plugin में से एक है |

Akismet Anti-Spam:

यह प्लगइन स्पैम कमेंट्स को दूर करने में मदद करता है। यह स्पैम Comments को फ़िल्टर करके आपकी साइट पर Security प्रदान करता है।

Jetpack:

यह एक सुरक्षा और आपको site की speed बढ़ाने वाला प्लगइन है। यह आपकी साइट की सुरक्षा बढ़ाने तथा Social Media पोस्ट को आसान बनाने में मदद करता है।

Contact Form 7:

यह प्लगइन आपको आसानी से संपर्क फॉर्म बनाने की सुविधा देता है ताकि प्रयोक्ता आपसे संपर्क कर सकें। साथ ही ये Captcha लगाने के लिए भी उपयोगी है |

UpdraftPlus:

यह एक बैकअप और Restore तथा Migraition प्लगइन है जो आपकी साइट की डेटा की सुरक्षा करने में मदद करता है।

WP Super Cache:

यह प्लगइन आपकी वेबसाइट की गति को बढ़ाने के लिए कैशिंग का उपयोग करता है, जिससे आपकी साइट तेजी से लोड हो सके।

Smush:

यह एक इमेज ऑप्टिमाइजेशन प्लगइन है जो आपकी इमेजों का आकार कम करने में मदद करता है, जिससे पेज लोडिंग की गति में सुधार होता है।

Elementor:

यह विजुअल पेज बिल्डर प्लगइन है जो बिना किसी कोडिंग की मदद से आपको आकर्षक पेज बनाने में मदद करता है।

Wordfence Security:

यह प्लगइन आपकी वेबसाइट को मालवेयर आदि से सुरक्षित रखने में मदद करता है।

यह केवल कुछ WordPress प्लगइन्स के उदाहरण हैं, लेकिन अन्य भी अनगिनत प्लगइन्स उपलब्ध हैं जो आपकी वेबसाइट को विभिन्न तरीकों से सुंदर , आकर्षित और Secure करने में मदद कर सकते हैं।

WordPress वेबसाइट मे Plugin कैसे Install करे ?

WordPress पर Plungis Install करना बहुत आसना है | इसके लिए आपको अपने WordPress में Login करना है |

WordPress साइट में Login करने के लिए [ domain/wp-admin ] अपना Domain डालने के बाद /wp-admin इसके बाद User name और Password डालना होगा |

इसके बाद आपको नीचे Image में दिखाये गए अनुसार Options दिखाई देंगे | यहाँ पर आपको नीचे में Plugins का भी option दिखाई दे रहा होगा | इस पर click करे |

Plugins kya hote hain

इसके बाद plugins का page open होगा जहां पर आपको आपकी site में Installed plugins की लिस्ट दिखाई देगी | यहाँ से आप पुराने plugins को update , delete आदि कर सकते है | इसके ऊपर में ही आपको Add New का भी option दिखाई दे रहा होगा | इस पर click करे |

Plugins kya hote hain

इसके बाद आपको यहाँ पर कई Popular Plugins की लिस्ट दिखाई देगी | इसके right side के top में आप्क Search का option में मिलेगा | यहाँ से आप कोई भी plugin को search कर सकते है |

Plugins kya hote hain

उस plugin के side में आपको install now का option दिखाई देगा | आप install now पर click कर कोई भी plugin install कर सकते है |

Plugin install करने के बाद आपको हर plugins को activate करना होगा | install होने के बाद आपको वही पर या Plugins के dashboard में activate plugin का option दिखेगा जिसे Active करने के बाद आप उन plugins को use कर सकते है |

WordPress Plugins के फायदे

वर्डप्रेस प्लगइन्स कई तरह के फायदे प्रदान करते हैं जो आपकी वेबसाइट को और भी बेहतर बनाने में मदद करते हैं:

1. विशेषताओं का विस्तार: प्लगइन्स आपकी वेबसाइट को विभिन्न विशेषताओं जैसे कि फॉर्म, सोशल मीडिया शेयरिंग, स्लाइडर, गैलरी, ऑनलाइन दुकान आदि के साथ विस्तारित करने में मदद करते हैं।

वर्डप्रेस प्लगइन्स कई तरह के फायदे प्रदान करते हैं जो आपकी वेबसाइट को और भी बेहतर बनाने में मदद करते हैं:

विशेषताओं का विस्तार: प्लगइन्स आपकी वेबसाइट को विभिन्न विशेषताओं जैसे कि फॉर्म, सोशल मीडिया शेयरिंग, स्लाइडर, गैलरी, ऑनलाइन स्टोर आदि के साथ Customize करने में मदद करते हैं।

सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन (SEO): कुछ प्लगइन्स आपको सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन के लिए मार्गदर्शन प्रदान करते हैं, जिससे आप अपनी साइट को सर्च इंजनों में उच्च रैंक प्राप्त कर सकते हैं। ये Plugins है जैसे Rank Math , Yoast SEO , All in one SEO आदि |

सुरक्षा (Security): कुछ प्लगइन्स आपकी वेबसाइट को सुरक्षित रखने में मदद करते हैं, जैसे कि मैलवेयर सुरक्षा, डेटा बैकअप, और अन्य सुरक्षा सुविधाएँ आदि |

पेज लोडिंग स्पीड: कुछ प्लगइन्स वेबसाइट की पेज लोडिंग स्पीड को बढ़ाने में मदद कर सकते हैं, जैसे कि कैशिंग प्लगइन्स। इसके उदाहरण है – wp totle cache , wp rocket आदि |

विशेष डिजाइन और लेआउट: WordPress के का प्लगइन्स आपको वेबसाइट के डिजाइन और लेआउट को बदलने और आकर्षक बनाने के लिए विकल्प प्रदान करते हैं, जैसे कि Elementor

समय और प्रयास की बचत: प्लगइन्स आपको किसी विशेष फ़ंक्शन को ख़ुद से डेवलप करने अर्थात Coding करने की आवश्यकता से बचाते हैं, जिससे आप अपने वेबसाइट को जल्दी Develop कर सकते हैं।

ये कुछ मुख्य फायदे हैं जिन्हें वर्डप्रेस प्लगइन्स प्रदान कर सकते हैं, लेकिन यह आपके वेबसाइट की विशेष आवश्यकताओं पर भी निर्भर करता है की आपको किस तरह की plugins की अवश्यकता है |

WordPress Plugins के नुकसान

वर्डप्रेस प्लगइन्स के कुछ नुकसान भी हो सकते हैं, जिन्हें आपको ध्यान में रखना चाहिए:

सुरक्षा समस्याएँ: अगर आप Unknown Sources से plugins download करने अपनी site में upload करते है या फिर पुराने outdated plugins को समय समय पर अपडेट नहीं करते हैं, तो वह आपकी साइट को सुरक्षा की दृष्टि से हानी पहुंचा सकते हैं और मालवेयर की संभावना बढ़ा सकते हैं।

पेज लोडिंग स्पीड: कुछ प्लगइन्स अधिक डेटा प्रोसेस करते हैं और पेज लोडिंग स्पीड को कम कर सकते हैं |

Conclusion :

दोस्तों आज के इस पोस्ट “” के माध्यम से हमने आपको Plugins ke prakar, wordpress plugins kya hote hain इसके उपयोग आदि सभी विषयों पर जानकारी देने का प्रयास किया है |

हमारा उद्देस्य यही है की आपको इस पोस्ट के जरिये plugins के बारे मे सही और सटीक जानकारी मिल सके ताकि आप भी अपने site मे अछे से काम कर सके | यदि हमारा पोस्ट पसंद आया होगा तो आप इसे share जरूर करना |

इस पोस्ट से जुड़ी किसी भी प्रकार के कोई सवाल हो तो हमे आप नीचे comment कर सकते है हम आपके सवालो का जवाब जरूर देंगे | इसी प्रकार के interesting और knowledgeable article को पढ़ने के लिए हमारे site मे visit करते रहे | मिलते है किसी नए आर्टिक्ल के साथ इस पोस्ट को पूरा पढ़ने के लिए आप सभी का धन्यवाद दोस्तो |

FAQ

Plugins क्या होते हैं?

प्लगइन्स वर्डप्रेस वेबसाइटों के लिए थीम्स के साथ उपयोग किए जाने वाले विशेष फ़ंक्शनलिटी को जोड़ने के लिए विशेष स्क्रिप्ट होते हैं।

Pluginsकैसे इंस्टॉल किए जाते हैं?

आपको वर्डप्रेस डैशबोर्ड में “Plugins” विकल्प में जाना होगा, फिर “Add New” बटन पर क्लिक करें और फिर प्लगइन का नाम Search करें और इंस्टॉल करें।

क्या प्लगइन्स सुरक्षित होते हैं?

नहीं , सभी प्लगइन्स सुरक्षित नहीं होते हैं। आपको विश्वसनीय स्रोतों (WordPress Store , Official Website) से ही प्लगइन्स इंस्टॉल करने चाहिए और नियमित रूप से उन्हें अपडेट करना चाहिए।

क्या प्लगइन्स की संख्या बढ़ाने से Website की Speed पर असर पड़ता है?

हां, अधिक प्लगइन्स वेबसाइट की स्पीड पर असर डाल सकते हैं। लेकिन अच्छे कोडिंग और कैशिंग तकनीकों का उपयोग करके इस पर नियंत्रण रख सकते हैं।

प्लगइन्स को Update करना क्यों जरूरी हैं?

प्लगइन्स के Developers द्वारा नए सुरक्षा अपडेट और फ़ीचर्स जारी किए जाते हैं। अगर आप अपडेट नहीं करते हैं तो आपकी साइट सुरक्षा की दृष्टि से कमजोर हो सकती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *